Skip to Main Content
An Indian Morning

An Indian Morning
Sunday March 15th, 2020 with Dr. Harsha V. Dehejia and Kishore "Kish" Sampat
An Indian Morning celebrates not only the music of India but equally its various arts and artisans, poets and potters, kings and patriots. The first 30 minutes of the program features classical, religious as well as regional and popular music. The second

An Indian Morning celebrates not only the music of India but equally its various arts and artisans, poets and potters, kings and patriots. The first 30 minutes of the program features classical, religious as well as regional and popular music. The second one hour features community announcements and ear pleasing music from old/new & popular Indian films. The ethos of the program is summarized by its signature closing line, "Seeking the spirit of India, Jai Hind". Bollywood legend Amitabh Bachchan released a poetic public service announcement in the wake of the COVID-19 outbreak. In a Tweet from Friday, Big-B shared a video of himself reciting a short poem, which he wrote to raise awareness about the lethal disease. The caption of the minute and a half long clip read: "Concerned about the COVID 19 .. just doodled some lines .. in verse .. please stay safe" While giving a splendid demonstration of his poetic skills, the 77-year old expressed to his followers that, people talk of all sorts of cures and remedies, but how do we know whom should we listen to. Some suggest odd herbs and concoctions while others tell you to stay safe at home. But the right thing to do is to not touch anyone without washing your hands. Bachchan's message comes at a time when more than 70 people in the country have been infected by the highly contagious virus. “बहुतेरे इलाज बतावें , जन जनमानस सब , केकर सुनैं, केकर नाहीं, कौन बताए इ सब ; केयु कहिस कलौंजी पीसौ, केयु आँवला रस केयु कहस घर म बैठो, हिलो न ठस से मस ईर कहेन औ बीर कहेन, की ऐसा कुछ भी Carona , बिन साबुन से हाथ धोई के ,केहू के भैया छुओ न ; हम कहा चलो हमौ कर देत हैं , जैसन बोलैं सब आवय देयो , Carona-फिरोना , ठेंगुआ दिखाऊब तब !" ~ अब 01-CORONO FIRONA THENGUA DIKHAUB TAB CD MISC-20200315 TRACK#01 1:30 AMITABH BACHCHAN-2020 https://www.instagram.com/tv/B9pJ6qpBn2n/?utm_source=ig_embed हार्दिक अभिनंदन आप सबका, शुक्रिया, धन्यवाद और Thank You इस प्रोग्राम को सुनने के लिए। मन्ना डे और लता मंगेशकर ने मदनमोहन के संगीत निर्देशन में अनेक उच्चकोटि के गीत गाये। मदनमोहन के संगीत से सजा गीत, जो हम प्रस्तुत कर रहे हैं, वह राग ललित पर आधारित एक युगल गीत है। 1959 में प्रदर्शित फिल्म ‘चाचा जिन्दाबाद’ में मदनमोहन का संगीत था। इस फिल्म के गीतों में उन्होने रागों का आधार लिया और आकर्षक संगीत रचनाओं का सृजन किया। फिल्म में राग ललित के स्वरों में पिरोया एक मधुर गीत- “प्रीतम दरश दिखाओ...” था, जिसे मन्ना डे और लता मंगेशकर ने स्वर दिया। आइए, सुनते हैं यह गीत। 02-PREETAM DARAS DEEKHAO CD MISC-20200315 TRACK#02 4:36 CHACHA ZINDABAD-1959; MANNA DEY, LATA MANGESHKAR; MADAN MOHAN; RAJINDER KRISHAN https://www.youtube.com/watch?v=koCcAQKaKzU दोस्तों "कहकशां" का ऑडियो स्वरुप लेकर हम हाज़िर हैं, "महफिल ए कहकशां" के रूप में । करते थे वो सलाम-महबूब मेरे एल्बम १९९५ आपको एक गैर फ़िल्मी गीत सुनवाते हैं गायक अनवर की आवाज़ में. ये एक गज़ल है अनवर फर्रुखाबादी की लिखी हुई जिसका संगीत भी अनवर(गायक) ने तैयार किया है. अनवर फर्रुखाबादी ने कुछ गीत ही लिखे हैं फिल्मों के लिए। एक उल्लेखनीय गीत “जब दिल में नहीं है खोट” बैंक मैनेजर फिल्म से मन्ना डे का गाया हुआ है । सन १९८२ की एक फिल्म दिल ही दिल में जिसका संगीत मंधीर जतिन का तैयार किया हुआ है उसमें आप अनवर के लिखे गीत सुन सकते हैं। 03-KARTE THHE WOH SALAM ABHI KAL KI BAAT HAI CD MISC-20200315 TRACK#03 4:20 MEHBOOB MERE-1995; ANWAR; ANWAR; ANWAR FAROOQABADI https://www.youtube.com/watch?v=JF7x2SqtgEA Aa Gupchup Gupchup Pyar Karen Chhup Chuup is a song from the 1951 movie Sazaa starring Dev Anand, Nimmi and Shyama. Enjoy listening to this song. 04-AA GUPCHUP GUPCHUP PYAAR KAREN CD MISC-20200315 TRACK#04 3:26 SAZAA-1951; SANDHYA MUKHERJEE, HEMANT KUMAR; S. D. BURMAN; RAJINDER KRISHAN https://www.youtube.com/watch?v=y0o2D3XxBCg The music of Manzil wasn't a big hit when it was released, but now it is considered one of the best works of S.D. Burman. Two songs in particular, Aye Kash Chalte Milke and Chupke Se Mile Pyaase Pyaase, are regarded as classics. The lyrics were penned by Majrooh Sultanpuri. 05-CHUPKE SE MILLE PYAASE PYAASE CD MISC-20200315 TRACK#05 4:09 MANZIL-1960; GEETA DUTT, MOHAMMAD RAFI; S. D. BURMAN; MAJROOH SULTANPURI https://www.youtube.com/watch?v=tskaGIXBD7c DAAG is a story of a man convicted of murder, on the run from the law. Sunil (Rajesh Khanna) is forced to leave behind his new bride Sonia (Sharmila Tagore), when he kills her would-be rapist. In an attempt to establish a new identity Sunil meets Chandni (Rakhee) and ends up marrying her to give her illegitimate child a father’s name. Now a respected Mayor of his town, Sunil’s past catches up with him and brings together Sunil and Sonia but the long arm of the law is just a step behind... Can he outrun his destiny for long? 06-MERE DIL MEIN AAJ KYA HAI CD MISC-20200315 TRACK#06 4:14 DAAG-1973; KISHORE KUMAR; LAXMIKANT-PYARELAL; SAHIR LUDHIANAVI https://www.youtube.com/watch?v=IsKN8iylATk Enjoy this Bengali folk song, which is a tribute to the Indian Music Director & Singer S.D Burman. India's best drummer, *Sivamani* who is playing the drums is truly outstanding. Produced by : KAUSHIK HOSSAIN TAPOSH & FARZANA MUNNY from TM PRODUCTION exclusively for GAAN BANGLA TELEVISION 07-TAKDUM TAKDUM BAJAI CD MISC-20200315 TRACK#07 5:37 A TRIBUTE TO S. D. BURMAN-2018; KIRAN CHANDRA ROY; KAUSHI HOSSAIN TAPOSH; MEERA DEV BURMAN https://www.youtube.com/watch?v=XsUD3Ami0f8 आँखें हैं तेरी बड़ी बड़ी-चोर मचाये शोर २००२ किसी गीत में आँखों का जिक्र होना आम बात है मगर आँखों के साइज़ के बार में कि बड़ी बड़ी हैं शायद मैंने पहले सुना नहीं था इस गीत के पहले। बाकी चीज़ें बड़ी बड़ी तो देखी और महसूस की थीं मगर इस गीत में गीतकार ने कुछ अलग अंदाज़ में नायक नायिका को भावनाएं व्यक्त करने का मसाला मुहैया करा दिया है। गौरतलब है जिस नायिका की आँखें ज्यादा बड़ी बड़ी हैं-बिपाशा बासु उन पर नहीं, बल्कि शिल्पा शेट्टी पर इस गीत के मुखड़े को फिल्माया गया है फिल्म में। गीत में थोड़ी देर बाद दूसरी हीरोईन भी दिखती है। गाने में निकल, क्रोमियम पड़ी से मतबल है लॉटरी निकल पड़ी। देव कोहली का लिखा ये गीत हैं सन २००२ की चोर मचाये शोर से। फिल्म में संगीत है अन्नू मलिक का और इस गीत को गाया है उदित नारायण संग डिम्पल वर्मा ने। 08-AANKHEN HAI TERI BADI BADI CD MISC-20200315 TRACK#08 6:03 CHOR MACHAYE SHOR-2002; UDIT NARAYAN, DIMPLE VARMA; ANU MALIK; DEV KOHLI https://www.youtube.com/watch?v=BMWK5mWB8oA पांव में डोरी-चोर मचाये शोर १९७४ अगला गीत प्रस्तुत है सन १९७४ की चोर मचाये शोर से. सन ७४ के चोर और सन २००२ के चोर के शोर मचाने के अंदाज़ में कितना फर्क आ गया है। उस समय की नायिकाओं को सर्दी लगा करती थी मगर २००० आते आते नायिकाओं के मन से सर्दी का डर गायब हो गया जो गीत में प्रयुक्त पोशाकों से समझा जा सकता है। फिल्म में शशि कपूर और मुमताज़ प्रमुख नायक नायिका हैं. गीत और संगीत रवींद्र जैन का है और इसे रफ़ी-आशा ने गाया है। फिल्म में घुँघरू शब्द वाले दो गीत हैं और घाघरा शब्द वाले भी दो गीत हैं। इसी गीत में घुँघरू और घाघरे को याद किया गया है। 09-PAON MEIN DORI CD MISC-20200315 TRACK#09 3:01 CHOR MACHAYE SHOR-1974; MOHAMMAD RAFI, ASHA BHOSLE; RAVINDRA JAIN https://www.youtube.com/watch?v=u8rxOUz-bPA तिनका तिनका ज़रा ज़रा-करम २००५ कर्म, भाग्य, किस्मत इत्यादि पर हर दशक में एक ना एक फिल्म बन ही जाती है। सन २००४ में बनी थी किस किस की किस्मत जो अपने “किस” के लिए मशहूर हुईl फिल्म के सितारों का भी भाग्य और कर्म में अटूट विश्वास होता है, बस ये थोडा “अलग हट के” होता है। आज सुनते हैं फिल्म करम से एक गीत। जॉन अब्राहम और प्रियंका चोपड़ा अभिनीत ये फिल्म सन २००५ में आई थीl फिल्म का यह लोकप्रिय गीत गाया है मेड इन इण्डिया गर्ल अलीशा चिनॉय ने। गीत काफी बेहतर तरीके से गवाया गया है और अलीशा की मादक आवाज़ ने उसे और झकास बना दिया है-ऐसा मैंने सुना एक युवा के मुखारविंद से इस गीत की प्रशंसा में। धुन ज़रूर आकर्षक है मगर ये किसी विलायती लहजे में कही गयी कहानी सा लगता है। गीत इरशाद कामिल ने लिखा है और विशाल शेखर संगीतकार हैं। 10-TINKA TINKA ZARA ZARA CD MISC-20200315 TRACK#10 3:05 KARAM-2005; ALISHA CHINOY; VISHAL-SHEKHAR; IRSHAD KAMIL https://www.youtube.com/watch?v=nRpWhwGWAVE नमक इश्क का-ओंकारा २००६ आपको ओंकारा फिल्म से केवल एक गीत सुनवा के रह गए बीडी जलाइले। फिल्म के और गीत भी सुनने लायक हैं। इस फिल्म में लंगड़ा त्यागी की भूमिका के लिए सैफ अली खान की भूरि भूरि प्रशंसा हुई थी। आज सुनते हैं एक गीत रेखा भारद्वाज का गाया हुआ। इसे लिखा है गुलज़ार ने और इसकी तर्ज़ बनाई विशाल भारद्वाज ने। नमक भी रोमांटिक हो सकता है, कितना ये जानिये इस गीत को सुनने के बाद। गीत फिल्माया गया है बिपाशा पर। 11-NAMAK ISHQ KA CD MISC-20200315 TRACK#11 4:55 OMKARA-2006; REKHA BHARDWAJ; VISHAL BHARDWAJ; GULZAR https://www.youtube.com/watch?v=R4R0b__st8o THE END समाप्त
There are no tracks in this playlist.
Interactive CKCU